पेट में चर्बी का इलाज | Abdominal Obesity Treatment in Hindi

Abdominal obesity treatment in hindi

आजकल लोग पेट मोटापे और बढ़ते वजन से परेशान नहीं है बल्कि पेट की चर्बी आजकल बड़ी समस्या बन गई है। पेट की चर्बी कम करने के लिए लोगों को सर्जरी का सहारा लेना पड़ता है, लेकिन कुछ घरेलू तरीके है (Abdominal Obesity Treatment in Hindi) जिनके जरिए पेट की चर्बी को कम किया जा सकता है।

पेट की चर्बी बढ़ने के कारण: Abdominal Obesity Causes in Hindi:

आजकल लोग जिस समस्या से ज्यादा ग्रस्त है वो है चर्बी। बदलते लाइफस्टाइल और भागदौड़ भरी जिंदगी के अलावा खाने-पीने की गलत आदतें पेट और बाकी हिस्सों में चर्बी बढ़ने की मुख्य वजह है। इसके अलावा और भी कई वजह है:

  1. ज्यादा देर तक एक ही जगह पर बैठे रहना
  2. खाना खाने के बाद बैठे रहना और घूमना फिरना नहीं
  3. खाना खाते ही सोने जाना
  4. कम सोने की वजह से उनके शरीर पर फर्क पड़ता है। इनमें से एक प्रभाव शरीर के कुछ हिस्सों में बढ़ी चर्बी के रूप में देखने को मिलता है।
  5. ज्यादा तली-भुनी और कार्बोहाइड्रेट वाली चीजें खाना।
  6. शराब पीने और धूम्रपान करना।

पेट की चर्बी का इलाज: Abdominal Obesity Treatment in Hindi:

आइये जानते है पेट की चर्बी के उपाय (Abdominal Obesity Treatment in Hindi).

  • पेट की चर्बी कम करने के लिए तरबूज खाएं। तरबूज में पानी की मात्रा ज्यादा होती है और इसे खाने से पेट ज्यादा वक्त तक भरा रहता है। इससे फायदा यह है कि भूख कम लगती है जिससे खाने पर कंट्रोल होता है। जिससे पेट की चर्बी कम होती है।
  • खाने में सब्जियाँ, फल, सलाद और दूध जैसी चीजों का सेवन करें। चर्बी और फैट बढ़ाने वाली चीजों को अपने खाने में बिल्कुल शामिल ना करें।
  • रोजाना सुबह एक गिलास गुनगुने पानी में 2-3 चम्मच शहद और 2 नींबू का रस डालें और उसे पिएँ। रोजाना ऐसा करें। एक-दो महीनों में काफी फर्क महसूस होगा।
  • फूलगोभी चर्बी को कम करने में काफी मदद करती है। आप फूलगोभी का सलाद में भी इस्तेमाल कर सकते है। दिन में कम से कम एक बार इसका सलाद में इस्तेमाल करें।
  • चर्बी कम करने के लिए हेल्थ ड्रिंक बनाकर रोजाना पी सकते है। इसके लिए आप 3-4 गिलास पानी लें और उसमें 3-4 नींबू निचोड़ें, 6-7 तुलसी के पत्ते डालें फिर उसमे खीरे के कुछ टुकड़े डालें, चाहें तो एक खीरे का जूस आप उसमें मिला सकते है। अब इस मिश्रण को रातभर के लिए एक बर्तन में ढंक कर रखे दें। सुबह उठकर इसे पिएँ।
  • वजन घटाने में लहसुन बहुत मददगार साबित होता है जो ठीक उसी तरह पेट की चर्बी को कम करने में काफी उपयोगी है। इसके लिए रोजाना लहसुन की दो कलियां चबाएं और उसके ऊपर से एक गिलास गुनगुना पानी पी लें जिसमें एक नींबू का रस डला हो।
  • खाने में जीरा जरूर शामिल करें क्योंकि यह पेट की चर्बी घटाने में मददगार है। इसके अलावा सेब, अनानास, खीरा और टमाटर पेट की अतिरिक्त चर्बी को कम करने में सहायक होते है। जहाँ अनानास में ब्रोमीलेन नामक एंजाइम होता है जो चर्बी को कम करने में मदद करता है, तो वहीं सेब के अंदर फाइबर और बीटा कैरोटीन होता है जो चर्बी घटाता है।
  • इसी तरह टमाटर में 9-oxo-ODA नामक एक तत्व होता है जो फैट को कम करने में मदद करता है।
  • कड़ी पत्ता भी एक ऐसी चीज है जिसके जरिए पेट की चर्बी को कम किया जा सकता है क्योंकि यह आसानी से मिलने वाली चीज है इसलिए इसके सेवन में भी कोई परेशानी नहीं होगी। रोजाना सुबह उठकर खाली पेट 4-5 कड़ी पत्ते चबाएं। कुछ वक्त तक ऐसा करेंगे तो पेट की चर्बी से निजात मिलेगी।
  • पेट की चर्बी बढ़ाने के लिए अजवाइन अच्छा उपाय है। इसके लिए रोजाना रात को एक गिलास पानी में आधा चम्मच अजवाइन भिगो दें और सुबह उसे पीसकर थोड़े से शहद में मिलाकर खाएं।
  • एलोवेरा को भी पेट की चर्बी कम करने के लिए कारगर माना जाता है। इसके लिए या तो एलोवेरा का रोजाना जूस पिएँ या फिर एलोवेरा की पत्ती के अंदर का गूदा निकालकर उसमें संतरा या मौसंबी का जूस मिलाकर रोजाना पिएँ। कुछ ही हफ्तों में चर्बी कम होने लगेगी।
  • रोजाना सुबह ग्रीन टी पिएँ इससे पेट की चर्बी यानि बैली कम करने में मदद मिलेगी और मोटापा भी कम होगा।
  • ग्रीन टी पीने के अलावा नियमित रूप से योगा करें।
  • रोजाना सुबह-शाम टहलें, पेट की चर्बी कम होगी। इसके अलावा रोज सुबह एक गिलास गुनगुने पानी में एक या दो चम्मच शहद मिलाकर पिएँ। ऐसा करने से पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।
  • दही को चर्बी और मोटापा घटाने में काफी कारगर माना जाता है। रोजाना एक वक्त दही खाने से कुछ ही महीनों में चर्बी कम होगी। दही शरीर में मौजूद फैट को पिघलाने में मदद करती है और उसकी वजह से चर्बी कम हो जाती है।
  • पुदीना भी चर्बी को कम करने में मदद करता है। इसके लिए पुदीना रोज खाएं। आप पुदीने की चाय भी पी सकते है या फिर पुदीने की चटनी या रायता बनाकर भी ले सकते है। किसी भी फॉर्म में खाएं, लेकिन एक वक्त पुदीना रोजाना खाएं।

अस्वीकरण: सलाह सहित इस लेख में सामान्य जानकारी दी गई है। अधिक जानकारी के लिए आज ही अपने फोन में आयु ऐपडाउनलोड कर घर बैठे विशेषज्ञ डॉक्टरों से परामर्श करें। स्वास्थ संबंधी जानकारी के लिए आप हमारे हेल्पलाइन नंबर 781-681-11-11 पर कॉल करके भी अपनी समस्या दर्ज करा सकते हैं। आयु ऐप हमेशा आपके बेहतर स्वास्थ के लिए कार्यरत है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.