आँखों में जलन के कारण और उपचार| Aankhon Mein Jalan Ke Upay in Hindi

आँखों में जलन के कारण और उपचार Aankhon Mein Jalan Ke Upay in Hindi

Aankhon Mein Jalan Ke Upay in Hindi: आँखें हमारे शरीर का बहुत ही संवेदनशील भाग है। इसीलिए उन्हें ज्यादा देखभाल की जरूरत होती है। आंखों को लेकर हुई एक छोटी सी लापरवाही भी खतरनाक साबित हो सकती है। आजकल की लाइफस्टाइल को देखते हुए लोगों को आंखों में जलन और पानी आना, आंखों में चुभन, और आंखों में सूखापन आदि की समस्या आम हो गई है।

आँखों में जलन की बड़ी वजह लगातार कंप्यूटर स्क्रीन पर काम करना और खान-पान में गड़बड़ी भी है। आँखों में जलन के साधारण से लेकर जटिल तक अनेक संभावित कारण हो सकते हैं, और अन्य लक्षणों जैसे खुजली, आँखों में दर्द, आँखों में पानी या स्राव आना, के बिना भी जलन की संवेदना हो सकती है।

आँखों में जलन का कारण

कभी-कभी यह बताना आसान होता है कि आँखों में जलन क्यों होती है? उदाहरण के लिए, आपकी आँखें जलन कर सकती हैं
यदि उनमें रसायन चले जाएँ, जैसे शैम्पू वाली सामग्री, किसी स्विमिंग पूल से क्लोरीन या सनस्क्रीन।
अन्य सामान्य क्षोभक जो आपकी आँखों में जलन उत्पन्न कर सकते हैं, उनमें मेकअप, त्वचा मॉइस्चराइज़र, साबुन और सफाई उत्पाद शामिल हैं।

लंबे समय तक कॉन्टेक्ट लेंस के उपयोग के बाद आपकी आँखों में जलन हो सकती है। आँखों में जलन पर्यावरणीय क्षोभकों जैसे स्मॉग, धुएं, धूल, मोल्ड, पराग या पालतू जानवरों के डैन्डर (झड़ती त्वचा) से भी उत्पन्न हो सकती है। यदि आपको इनमें से किसी भी पदार्थ से एलर्जी है, तो आपकी आँखों में इनके कारण जलन की संभावना और भी अधिक है। कभी-कभी, “साफ” हवा भी आपकी आँखों में जलन का कारण बन सकती है, खासकर जब यह विशेष रूप से गर्म, ठंडी या रूखी हो।

आँखों में जलन किस बीमारी का है संकेत

यद्यपि आपकी आँखों में कुछ चले जाने पर उनमें जलन हो सकती है, परन्तु कभी-कभी आँखों की जलन, आँखों की गंभीर स्थिति का संकेत देती है।

विरले उदाहरणों में, आँखों में जलन यूवेइटिस या ऑर्बिटल सेल्युलाइटिस जैसी गंभीर दृष्टि या जानलेवा स्थिति का संकेत हो सकती है। अक्सर, आँखों में जलन के साथ अन्य लक्षण होते हैं जो आपके नेत्र चिकित्सक को आपकी परेशानी के मूल कारण के बारे में संकेत दे सकते हैं। उदाहरण के लिए, जब खुजली के साथ आँखों में जलन होती है, तो यह एलर्जी का संकेत हो सकती है, या यदि आपकी आँखों में जलन हो और आँखों से स्राव निकले, तो इसका अर्थ संक्रमण हो सकता है।

आंखों में जलन का इलाज

अगर आपकी आंखों में जलन और पानी आ रहा है और ये समस्या लंबे समय से बनी हुई है तो तुरंत नेत्र रोग विशेषज्ञ से संपर्क करें। क्योंकि लंबे समय से लगातार चली आ रही आँखों की सममस्या एक गंभीर खतरे का कारण बन सकती है।
इसलिए बिना देरी के नेत्र चिकित्सक से संपर्क करें। आजकल ऑनलाइन डॉक्टर की सुविधा भी आसानी से उपलब्ध है जहाँ आप अपनी समस्या बता कर डॉक्टर से इलाज पा सकते हैं।

आयु ऐप से घर बैठे नेत्र विशेषज्ञ से ऑनलाइन परामर्श लें। क्लिक करें 👇

Online Doctor Consultation through Aayu App
Online Doctor Consultation through Aayu App

आंखों को संक्रमण से बचाने के उपाय

  • पोषक और संतुलित आहार लें। अपने डाइट चार्ट में हरी सब्जियां और मौसमी फलों को जरूर शामिल करें।
  • प्रकृतिक रूप से आंखों को तरोताज़ा करने के लिए 6-8 घंटे की नींद लें।
  • आंखों में नमी बनाए रखने के लिए पानी और अन्य तरल पदार्थों का अधिक मात्रा में सेवन करें।
  • अधिक समय तक एसी में न रहें, इससे आंखों में सूखापन आ सकता है, और उनमें जलन हो सकती है।
  • आँखों की सफाई के लिएआंखों को 2-3 बार ठंडे पानी से धोएं।
  • रात को आंखों का मेकअप निकालकर सोएं, इसमें जो रसायन होते हैं उनसे आंखों में जलन की समस्या हो जाती है।
  • आंखों के संक्रमण से बचने के लिए अपने टॉवेल, रूमाल, तकिए या मेकअप के सामान किसी से साझा न करें।

आँखों में जलन का घरेलु इलाज

प्रदूषण, कॉन्टैक्ट लेंसेज का इस्तेमाल करना, स्क्रीन के सामने अधिक वक्त बिताना, नींद कम आना, चिड़चिड़ापन, शरीर में पानी की कमी, बहुत अधिक दवाइयां लेना या फिर घंटों मोबाइल में देखते रहने से आंखों में जलन, थकान और संक्रमण की शिकायत हो जाती है। इससे न केवल दूसरे कामों को करने में परेशानी होती है बल्क‍ि खूबसूरती पर भी असर पड़ता है।

आप चाहें तो इन समस्याओं को दूर करने के लिए घरेलू उपाय अपना सकते हैं। ये उपाय पूरी तरह नेचुरल हैं, ऐसे में इन्हें आजमाना पूरी तरह सुरक्षित है।

(i.) गुलाब जल

आंखों की थकान और जलन दूर करने के लिए गुलाब जल का इस्तेमाल करना भी बहुत फायदेमंद होता है। आप चाहें तो गुलाब जल में रूई डुबोकर पैच बना सकते हैं और इन्हें आंखों पर रखकर लेट सकते हैं।
या फिर गुलाब जल की एक या दो बूंद को आंखों में भी डालकर कुछ देर के लिए लेट सकते हैं। इससे आंखें साफ हो जाएंगी और थकान भी दूर हो जाएगी।

(ii.) खीरे का उपाय

आंखों की थकान और जलन दूर करने के लिए खीरे का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद है। ये आंखों की जलन दूर करके उन्हें ठंडक देने का काम करता है। खीरे के पतले-पतले टुकड़े काटकर उन्हें फ्रिज में रख दें। कुछ देर के लिए खीरे के इन टुकड़ों को आंखों पर रखकर लेट जाएं। जलन और थकान दूर करने का ये बेहद कारगर और आसान उपाय है।

(iii.)कैस्टर ऑयल

आंखों से जुड़ी ज्यादातर परेशानियों को आप कैस्टर ऑयल के इस्तेमाल से दूर कर सकते हैं। रूई के एक टुकड़े को कैस्टर ऑयल में डुबोकर हल्के हाथों से निचोड़ लें। इसके बाद इन्हें आंखों पर रखकर लेट जाएं। आप चाहें तो उंगलियों में कैस्टर ऑयल लगाकर हल्के हाथों से मसाज भी कर सकते हैं।

(iv.) कच्चा आलू

आंखों की जलन, थकान और आंखों के नीचे बने काले घेरों को दूर करने के लिए कच्चे आलू का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। खीरे की ही तरह आलू के भी पतले-पतले टुकड़े काटकर फ्रिज में रख दें और जब ये ठंडे हो जाएं तो इन्हें आंखों पर रखकर लेट जाएं।

(v.) ठंडा दूध

ठंडे दूध से आंखें साफ करना भी एक कारगर उपाय है। दूध में मौजूद कई तत्व आंखों के संक्रमण और थकान को दूर करने में मददगार होते हैं। आप चाहें तो ठंडे दूध का पैच बना सकते हैं या फिर ठंडे दूध से आंखों पर मसाज कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें-

डिस्क्लेमर

इस लेख में हमने आँखों में जलन का कारण और उपाय के बारे में जानकारी दी है। इसी तरह की विशेषज्ञ डॉक्टर से प्रमाणित जानकारी रोज़ाना अपने फोन पर पाने के लिए अभी डाउनलोड करें आयु ऐप। हमें उम्मीद है यह जानकारी आपको पसंद आई होगी, अगर आपका इसे लेकर कोई सवाल या सुझाव है तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

1. आंखें क्यों दर्द करती है?

आंखों के दर्द (Eye Pain) का मुख्य कारण है आंख पर अत्यधिक तनाव, एलर्जी या कुछ रोग जो आंख को प्रभावित करते हैं. हालांकि आंखों को सुरक्षित रखने और दर्द कम करने के लिए घरेलू इलाज (Home Remedies) कर सकते हैं।

2. आंखों की एलर्जी का घरेलू उपाय

आई ड्रॉप का इस्तेमाल करें …अपने डॉक्टर से प्रिसक्रिप्शन दवाओं के बारे में पूछताछ करें.

3. आंखों का दर्द कैसे ठीक करें?

एक साफ सूती कपड़े को ठंडे पानी में भिगा कर आँखों के ऊपर रखें। इससे आँखों को ठंडक मिलती है और दर्द कम होता है। यदि आँखों में सूजन और लालिमा आ रही हो तो भी इस उपाय से फायदा (aankh dard ka gharelu upay)मिलता है।

4. आंख में खुजली होने का कारण क्या है?

धूल-धुआं, पौधों के परागकण, प्रदूषण से एलर्जी या आंखों की पलकों पर मौजूद चिकनाई के सूखने से ऐसा होता है। इससे आंखों में जलन, खुजली व पानी निकलने जैसे लक्षण सामने आते हैं।

5. आंखों में भारीपन क्यों होता है?

शुगर के लगातार बढ़ते और ब्लड प्रेशर के कारण आंखों पर दबाव बढ़ता है। जिससे भारीपन महसूस होता है और यही भारीपन ग्लूकोमा यानी काला मोतिया बन जाता है। अगर इसका समय रहते इलाज न कराया जाए तो व्यक्ति अंधेपन का शिकार
हो जाता है।

6. आंखों में चुभन का इलाज

अगर आप सिगरेट पीते हैं तो सिगरेट की संख्या कम कर लें। इससे आंखें जल्दी शुष्क हो जाती हैं और खुजली भी हो सकती है। संभव हो तो घर में अच्छी क्वालिटी का एयर प्यूरिफायर लगाएं।

7. आंखों का इन्फेक्शन कैसे दूर करें?

.गर्म पानी हल्के गर्म पानी के इस्तेमाल से आंखों को धोएं
.गुलाब जल से आंखों को धोने से इनमें होने वाला इंफेक्शन कम हो जाता है। …
.पालक और गाजर का रस का सेवन करें
.आंवले का रस आंखों का इन्फेक्शन दूर करने में उपयोगी

8. आंखों का धुंधलापन दूर करने के उपाय

आंखों का धुंधलापन का इलाज जब किसी भी तरीके से नहीं हो पाता है, तब आंखों का धुंधलापन के लिए लेज़र सर्जरी ही एकमात्र विकल्प बचता है। लेज़र सर्जरी में लेज़र के माध्यम से आंखों के धुंधलापन को दूर किया जाता है। यह काफी सुरक्षित तरीका है, जिसमें व्यक्ति को किसी तरह का दर्द महसूस नहीं होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.