दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय | Daily Health Tip | Aayu App

दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय

नमक का ज़्यादा सेवन दिल की बीमारियों का ख़तरा बढ़ा देता है। इसलिए दिल को स्वस्थ रखने के लिए खाने में नमक की मात्रा को कम ही रखें।

Excess intake of salt increases the risk of heart diseases. Therefore, use low amount of salt in your food to keep the heart healthy.

Health Tip for Aayu App

कोरोना संकट के बीच खुद को मेंटली और फिजिकली फिट रखना बहुत चुनौतीपूर्ण होता है। ऐसे में अपने दिल को स्वस्थ रखना जरूरी है। आज हम आपके दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय बताने जा रहे है, जिन्हें आप अपने जीवन में शामिल करके अलग-अलग तरह के हृदय रोगों (Healthy Heart Tips in Hindi) से बच सकते है।

दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय: 7 Ways to keep heart healthy

धूम्रपान ना करें: यदि आप हृदय रोगों से खुदको दूर रखना चाहते है तो धूम्रपान का सेवन करने से बचें। अगर आप धूम्रपान करने के आदी है तो आपको ऐसा लग सकता है कि यह आपको शांति प्रदान कर रहा है लेकिन यह किसी भी तरह से आपके स्वास्थ्य के लिए अच्छा नहीं है बल्कि धूम्रपान और तंबाकू का सेवन कोरोनरी हृदय रोगों के होने के सबसे बड़े कारणों में से एक है। तंबाकू से रक्त वाहिकाओं और हृदय को बड़ा नुकसान पहुँचता है।

आप धूम्रपान करने की जगह निकोटीन पैच या च्यूइंग गम का उपयोग करके धूम्रपान को जल्दी से जल्दी छोड़ सकते हैं।

वर्क-आउट या व्यायाम करें: दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय में व्यायाम करना भी शामिल है। यदि आप नियमित रूप से व्यायाम करते हैं तो आप इसके फायदे अवश्य जानते होंगे। इनके फायदों में एक फायदा यह भी है कि यह दिल के जोखिमों को कम करता है। रोजाना व्यायाम करने से ना केवल आपका शरीर टोंड रहता है बल्कि आप लंबे समय तक स्वस्थ भी रहते है। (यह भी पढ़ें: व्यायाम करने के फायदे और इसके प्रकार)

दिल के लिए नियमित व्यायाम करने के फायदे:

  • कार्डियोवस्कुलर सिस्टम को मजबूत करें।
  • शरीर में रक्त परिसंचरण में सुधार करें।
  • धैर्य बढ़ाएं
  • आपके संतुलन और लचीलेपन में सुधार लाए
  • ऊर्जा के स्तर को बढ़ाएं

अगर आप अपने दिल को स्वस्थ रखना चाहते है तो सप्ताह में कम से कम चार बार 20-30 मिनट का एक एरोबिक सेशन करें। यदि आप रोज़मर्रा के काम नहीं करते, तो आप कुछ योग करने से शुरुआत कर सकते हैं। योग आपके शरीर को आराम देने और तनाव के स्तर को कम करने, इसके अलावा हृदय स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए बहुत लाभकारी होते हैं।

 स्वस्थ-आहार लें:

अच्छा आहार लेने से कार्डियोवस्कुलर सिस्टम को भोजन से प्राप्त ऊर्जा में लाभ होता है।

स्वस्थ हृदय के लिए संतुलित आहार लेना बहुत आवश्यक है। अतः आपको इसे लेने के तरीके और इसके लिए उपाय पता होने चाहिए।

  • भोजन की मात्रा का ध्यान रखें: जितना सही भोजन करना महत्वपूर्ण होता है उतना ही सही मात्रा में भोजन करना भी। अधिक मात्रा में भोजन करने से आप ज्यादा कैलोरी ले सकते है जो आपके दिल के लिए हानिकारक हो सकता है अतः सही मात्रा में भोजन करने की आदत डालें।
  • फलों और सब्जियों का सेवन करें: फल और सब्जियाँ फाइबर में समृद्ध होते हैं। इनमें ऐसे पदार्थ होते हैं जो हृदय रोग को रोकने में मदद करते हैं साथ ही ये विटामिन और खनिजों के भी अच्छे स्रोत होते हैं। एक पूर्ण आहार हृदय रोग के जोखिम को कम करने के लिए जरूरी माना जाता है।
  • साबुत अनाज खाएं: साबुत अनाज में उच्च फाइबर होता है जो ब्लडप्रेशर को नियंत्रित करने में एक अहम भूमिका निभाता है।
  • स्वस्थ वसा का सेवन करें: कई बार लोग वसा को उच्च कोलेस्ट्रॉल से जोड़ लेते हैं जिसके कारण दिल का दौरा पड़ सकता है। इसलिए आपको स्वस्थ वसा और अस्वस्थ वसा के बारे में पता होना चाहिए।

स्वस्थ वसा: मेवे, बीज, वनस्पति तेल और जैतून का तेल।

अस्वस्थ वसा: ग्रेवी, क्रीम और मक्खन।

  • चीनी का सीमित सेवन करें: दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय में चीनी का सेवन ना करना भी शामिल है। चीनी का सेवन सीधे कैलोरी के सेवन से संबंधित होता है। उच्च कैलोरी स्तर का मतलब है हृदय रोग के विकास का अधिक जोखिम होना।

अल्कोहल का कम सेवन करें: दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय में अल्कोहल का कम सेवन करना भी शामिल है। यदि आप नियमित रूप से शराब का सेवन करते हैं, तो आपको इसके सेवन पर नियंत्रण करना चाहिए। एक अध्ययन में पाया गया है कि नियमित रूप से शराब का सेवन किसी व्यक्ति पर, विशेष रूप से उसके दिल पर घातक प्रभाव डालता है।

शराब की जगह जितना हो सके हर दिन ज्यादा से ज्यादा पानी पिएँ। प्रतिदिन कम से कम 2 लीटर या 8 गिलास पानी अवश्य पीना चाहिए।

दांतों को रोजाना ब्रश करें: दांतों की सफाई और हृदय स्वास्थ्य एक दूसरे से संबंधित होते हैं। दांतों का स्वास्थ्य आपके संपूर्ण हृदय स्वास्थ्य को निर्धारित करने में एक अहम भूमिका निभाता है। जीवाणुओं के बीच एक कड़ी है जो मसूड़ों की बीमारी का कारण बनती है और हृदय रोग का खतरा बढ़ाती है इसलिए हर रोज अपने दांतों को ब्रश करना और फ्लॉस करना आपके मुँह और दिल की देखभाल करने के लिए महत्वपूर्ण होता है।

रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल का ध्यान रखें: दिल को स्वस्थ रखने के 7 सरल उपाय में रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल का ध्यान रखना भी शामिल है। हृदय स्वास्थ्य के संबंध में उच्च रक्तचाप और उच्च कोलेस्ट्रॉल दोनों हानिकारक होते हैं। रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल की जांच को ट्रैक करना और उसकी निगरानी रखना जरूरी है। उच्च रक्तचाप और उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल के स्तर से दिल का दौरा पड़ सकता है। (यह भी पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल कैसे करें?)

वजन को नियंत्रित रखें: अधिक वजन होना हृदय रोग के लिए एक जोखिम कारक माना जाता है इसलिए, आपके लिए रोज कसरत करना और संतुलित आहार खाना बेहद ज़रूरी होता है। मोटापे के कारण हृदय की समस्याएं अधिक होती हैं।

यह लेख केवल सामान्य जानकारी के लिए है। यह किसी भी तरह से किसी दवा या इलाज का विकल्प नहीं हो सकता। ज्यादा जानकारी के लिए हमेशा आयु ऐप (AAYU App) पर डॉक्टर से संपर्क करें.

फ्री हैल्थ टिप्स अपने मोबाइल पर पाने के लिए अभी आयु ऐप डाउनलोड करें । क्लिक करें   

Leave a Reply

Your email address will not be published.